in

Saand Ki Aankh trailer out. Taapsee and Bhumi Pednekar hit the bulls-eye.

‘सांड की आंख’ का ट्रेलर रिलीज: दमदार अंदाज में दिखीं तापसी पन्नू और भूमि पेडनेकर.

ENGLISH

The trailer of Tappsee Pannu and Bhumi Pednekar’s much-talked about film Saand Ki Aankh has just been released. The film is based on the life of Haryana-based sharp shooters Chandro and Prakashi Tomar, played by Bhumi and Taapsee, respectively.

The trailer starts with Prakash Jha, in the role of Ratan Singh, saying, “Ye bandook mazak na hai. Ye mardo ka gehna hai aur mardo ke hath he achhi lage hai.”

In the next scene, we see Chandro shooting at the bulls eye effortlessly, later joined by Prakashi. Chandro and Prakashi both want their granddaughters to learn shooting so that they don’t have to live the oppressed life, similar to their grandmothers.

In an attempt to make their granddaughters learn shooting, they discover their own talent and love for shooting at the age of 60. The rest of the trailer shows their fight against the society and how they overcome all the obstacles to win medals for the country.

Saand Ki Aankh is directed by Tushar Hiranandani. Earlier, the makers of the film released the teaser of the film.

To get into her character of Prakashi, Taapsee lived with Chandro and Prakashi at their house in Haryana. She took to Instagram to share the video, talking about her stay in their village.

Saand Ki Aankh also stars Viineet Kumar and Shaad Randhaw. It is scheduled to hit theaters this Diwali.

Taapsee Pannu and Bhumi Pednekar in Saand Ki Aankh.

HINDI

बॉलीवुड अभिनेत्रा तापसी पन्नू और भूमि पाडनेकर स्टारर फिल्म ‘सांड की आंख’ का ट्रेलर रिलीज हो गया है। यह फिल्म शूटर चंद्रो और प्रकाशी तोमर की कहानी पर आधारित है। फिल्म का टीजर और कई पोस्टर पहले ही जारी हो चुका है। ट्रेलर में दिख रहा है कि दोनों शूटर चंद्रो और प्रकाशी तोमर की भूमिका निभा रहीं तापसी और भूमि दमदार लग रही हैं।

ट्रेलर में दिख रहा है तापसी और भूमि एक ऐसे गांवों में रहती हैं जहां औरतों को आज भी घूंघट हटाने की मंजूरी नहीं है। लेकिन इन सब के बावजूद दोनों शूटिंग करती हैं। वहीं दोनों ने बागपत की बोली को अच्छे से पकड़ी है। सच्ची घटना पर आधारित इस फिल्म के ट्रेलर में दिखाया गया है कि वो गांव में शूटिंग करती हैं और कई परेशानियों के बाद इस मुकाम पर पहुंचती हैं। साथ ही फिल्म में महिला अधिकारों की भी बात की गई है।

यह फिल्म दिवाली के मौके पर रिलीज की जाएगी और इस वक्त कोई और फिल्म ना होने की वजह से फिल्म को फायदा मिल सकता है।

फिल्म के डायरेक्टर तुषार हीरानंनदानी और प्रोड्यूसर अनुराग कश्यप हैं।

यह कहानी बागपत की दो दादियों के जीवन पर आधारित हैं, जिन्होंने 60 साल की उम्र में अपनी ट्रेनिंग शुरू की। बताया जाता है कि 60 साल की उम्र तक उन्हें शूटिंग का शौक नहीं था, लेकिन एक दिन वो ट्रेनिंग रेंज में गईं, जहां उन्होंन ऐसे ही शूटिंग की कोशिश की और उनका निशाना सही लगा। इसके बाद से उन्होंने शूटिंग शुरू कर दी। उसके बाद बहन चंद्रो तोमर ने भी शूटिंग शुरू की। चंद्रो और प्रकाशी 15 पोते-पोतियों की दादी हैं, जो घरेलू काम भी करती हैं और साथ ही अपने गांव की लड़कियों को निशानेबाजी की ट्रेनिंग भी देती हैं। साथ ही उन्होंने कई इनाम भी जीते हैं।

Image result for saand ki aankh

https://youtu.be/-uA-ONin_5M

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

film drive

Sushant Singh Rajput and Jacqueline Fernandes’ film Drive to be released on Netflix, not cinemas

Film Ghost

Trailer release of Vikram Bhatt’s horror film Ghost Film Ghost, based on the true incident