in

Janhvi Kapoor to romance Dulquer Salmaan in IAF officer Gunjan Saxena’s biopic

जानवी कपूर, भारतीय वायुसेना अधिकारी गुंजन सक्सेना की बायोपिक में दलकीर सलमान के साथ रोमांस करती हुई नज़र आएगी।

ENGLISH

Janhvi Kapoor’s debut film ‘Dhadak’ might have opened to mixed reviews at the box office, but she was lauded for her performance in the film. And now the latest buzz is that the actress has signed yet another Karan Johar film. It was reported last year that the filmmaker is planning to make a film on the first Indian woman chopper. And now it seems that the filmmaker has set the ball rolling.If reports are to be believed, she is all set to play the first woman IAF pilot Gunjan Saxena, who evacuated injured soldiers from Kargil in 1999. She, along with fellow lieutenant Srividya Rajan, fought and faced the enemy fire brought all soldiers safe home. She is the first woman to receive such an honour from the army.Her remarkable contribution during the war earned her a Shaurya Vir, a gallantry honour for valour, courageous action or self-sacrifice while not engaged in direct enemy combat.

While further details are yet to be revealed, the actress was seen spending some time with Gunjan.

On the work front, she will be next seen in Karan Johar’s directorial venture ‘Takht’ with Alia Bhatt, Ranveer Singh, Kareena Kapoor, Vicky Kaushal, Bhumi Pednekar and Anil Kapoor.

Janhvi Kapoor will be awarded ‘Arets Stjerneskudd’ rising talent of the year by the Norwegian Consulate General on December 10.

“I made my debut with ‘Dhadak’ this year. Our film has been seen by audiences across the globe since it released worldwide and many of them including people staying in Norway have seen the film and sent their good wishes via social media. This recognition is a pleasant surprise. I am happy to receive this honour and humbled that they chose me for this honour,” she said in a statement.

In the picture that is being circulated by fan clubs, Janhvi is seen dressed as Gunjan Saxena in the blue uniform with her hair tied in a bun. There is a buzz that South sweetheart Dulquer Salmaan has been signed on to play the male lead. The story would be focussed on her character, naturally, and Salmaan will get to romance her in the movie. Janhvi has a South connection as her mom Sridevi has been a South superstar too.

Incidentally, there was a rumour that she would be making her debut with Dulquer but she ultimately made her first mark in Bollywood with Ishaan Khatter. It would be interesting to see Janhvi and Dulquer romance together.

Two months ago, a leading website acquired an exclusive picture of Janhvi and Gunjan as the 21-year-old actress had been spending time with the pilot in order to prepare for her role.

Janhvi, daughter of filmmaker Boney Kapoor and veteran actress Sridevi, made her debut in Bollywood with Dhadak in July.

Janhvi Kapoor seems to be preparing for the role of IAF pilot Gunjan Saxena in the biopic and was snapped in an aviation outfit recently.

हिंदी 

दिवंगत अभिनेत्री श्रीदेवी की बेटी जाह्नवी कपूर ने इसी साल ‘धड़क’ मूवी से बॉलीवुड में डेब्यू किया। इससे पहले और बाद में जाह्नवी अपनी युवा इमेज के चलते लोकप्रिय हो गई हैं। अब उनके खाते में दो और फिल्में जुड़ गई हैं। इनमें से एक है करण जौहर की ‘तख्त’ और दूसरी है महिला फ्लाइट लियूटेनैंट गुंजन सक्सेना पर बन रही बायोपिक।

फ्लाइट लेफ्टिनेंट गुंजन सक्सेना पर बन रही बायोपिक में जाह्नवी कपूर नजर आने वाली हैं। हाल ही में जाह्नवी की एक फोटो वायरल हो रही है जिसमें उन्होंने फ्लाइट लेफ्टिनेंट गुंजन का लुक लिया हुआ है। अपने किरदार को और समझने और परदे पर उसे जीने के लिए जाह्नवी ने गुंजन से मुलाकातें भी की हैं। ऐसे में आइए जानते हैं कौन हैं गुंजन सक्सेना और किस काम के लिए देश इन्हें करता है सलाम।

गुंजन सक्सेना को श्रीविद्या राजन के साथ 1994 में भारतीय वायुसेना के पहले महिला ट्रेनी पायलट बैच में देश की सेवा करने का मौका मिला। सैनिक परिवार में पली-बढ़ी गुंजन के पिता और भाई भी सेना में थे। इसीसे उनको सेना में जाने का जज्बा जागा। दिल्ली यूनिवर्सिटी के हंसराज कॉलेज से स्नातक करने के बाद गुंजन ने एयरफोर्स ज्वॉइन किया था।

गुंजन की असली परीक्षा कारगिल युद्ध के समय हुई। गुंजन और श्रीविद्या भारत की ओर से युद्ध में भाग लेने वाली पहली महिला पायलट थीं। उन्हें घायल भारतीय सैनिकों को राशन सप्लाई करने और सबसे अहम युद्ध क्षेत्र में पाकिस्तानी पोजिशंस पर निगाह रखने की जिम्मेदारी सौंपी गई.

दोनों ने पहली बार छोटा फाइटर एयरक्राफ्ट ‘चिता’ उड़ाया था। इस विमान में उनके पास इंसास राइफल और रिवॉल्वर ही हथियार के रूप में था। ये भी उस समय के लिए जब विमान दुश्मन के इलाके में क्रेश हो जाए और उन्हें अपनी सुरक्षा करनी पड़े। दूसरी ओर पाकिस्तानी सेना उन पर लगातार बुलेट और मिसाइल्स से हमला कर रही थी। पाकिस्तानी सेना ने उनके एयरक्राफ्ट पर रॉकेट मिसाइल दागी। हालांकि पाक सैनिकों का निशाना चूक गया और मिसाइल पीछे की एक पहाड़ी पर जा गिरा। गुंजन सक्सेना ने फिर भी उड़ान को जारी रखा। साथ ही उन्होंने भारतीय सेना के घायल जवानों को सुरक्षित निकाला। बिना हथियारों के इस कारनामे को अंजाम देने के लिए गुंजन को शौर्य वीर अवॉर्ड दिया गया था।

शॉर्ट सर्विस कमीशन अधिकारी के रूप में गुंजन का कार्यकाल 7 साल के बाद खत्म हो गया क्योंकि उस समय महिलाओं को फुल कमीशन नहीं दिया जाता था। गुंजन ने वायु सेना के एमआई-17 हेलिकॉप्‍टर के पायलट से शादी कर ली। गुंजन के मुताबिक कारगिल के दौरान भारतीय सेना के घायल जवानों को सुरक्षित निकालकर लाना उनकी सबसे बड़ी प्रेरणा थी। वह कहती हैं कि एक हेलिकॉप्टर पायलट होने के नाते यह सबसे अच्छी फीलिंग होती है।

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Chevy Chase, Andie MacDowell, Richard Dreyfuss & More Topline Netflix Comedy Film ‘The Last Laugh’

South Superstar Mahesh Babu to romance Katrina Kaif in Sukumar film