in

Happy Bhag jayegi’ Happy to the audience

हैप्पी भाग जाएगी! एक मजेदार कॉमेडी फिल्म हैं

English

Happy Phirr Bhag Jayegi Movie Review: Horticulture professor Happy (Sonakshi Sinha) arrives in Shanghai and the other Happy (Diana Penty) along with husband Guddu (Ali Fazal) also lands up in the Chinese city at the same time. Gangsters who’ve come to kidnap Happy and her husband, pick up the wrong Happy, while Guddu and his wife Happy are escorted to a university to deliver a lecture. Comedy of errors is one of the oldest tricks in the filmmaking business. It’s always fun to watch, people caught up in extraordinary circumstances behaving like simpletons. And that’s exactly why Happy Phirr Bhag Jayegi (HPBJ) is such a fun film. It works on the same themes and ideas that made its predecessor, Happy Bhag Jayegi (HBJ) such a laugh riot. The writing and direction by Mudassar Aziz are top notch. HPBJ has delightfully random humour, the kind that you can watch over and over again.The film wastes no time in establishing the premise. The two Happys get interchanged as soon as the film begins. Sonakshi Sinha’s Happy is kidnapped by a bunch of bumbling gangsters who have hilarious names like Makaju (pronounced like a popular Hindi expletive). Diana Penty’s Happy and her husband Guddu are escorted to a college, where a random Chinese man acting as their translator employs such chaste Hindi that it bamboozles the Punjabi couple.These random bits of humour set the tone for the rest of the film, that plays out in a series of gags and situational humour set pieces, that are genuinely hilarious. Once the characters of Bagga (Jimmy Sheirgill), Usmaan Bhai (Piyush Mishra) and Khushi (Jassie Gill) get introduced, the film’s pace and humour picks up to a whole new level. But an extra word of appreciation for actors Denzil Smith and Jason Tham, Mudassar Aziz has managed to blend funny Punjabi dialogues in the Chinese setting of the film and the outcome is downright hilarious. The writing of HPBJ is its strength, the gags and scenes have been written with genuine alacrity.

 हिंदी 

हैप्पी भाग जाएगी।  साल 2016 में रिलीज हुई और सफल भी  रही और तय किया गया कि इसका अगला भाग और भी ज्यादा दिलचस्प बनाया जाए। वैसे अगर आपने फिल्म का पहला भाग नहीं देखा है, तब भी आप दुसरे भाग से आसानी से कनेक्ट हो जायेंगे। पिछली बार हैप्पी पाकिस्तान  भाग जाती है इस बार हैप्पी  चीन के अलग-अलग शहरों में भाग रही हैं। इस बार उसे  ढूढ़ने से ज्यादा बचाने की कोशिश की जा रही  है। फिल्म भले चीन पर बेस्ड हो, लेकिन वह आपको बहुत ही खूबसूरती से  पटियाला, अमृतसर, दिल्ली, कश्मीर और पाकिस्तान से जोड़ कर रखती हैं। फिल्म के राइटर और निर्देशक मुदस्सर अजीज ने अपनी पूरी फिल्म में बेहतरीन डायलॉग-बाजी से भारत, पाकिस्तान और चीन के बीच की तनातनी पर व्यंग्य किया है। फिल्म के बहुत से डायलॉग जहां आपको हंसाएंगे, वहीं सोचने पर भी मजबूर करेंगे। ‘तनु वेड्स मनु’ सीरीज़ और ‘रांझणा’ के निर्देशक आनंद एल. रॉय इस फिल्म के को-प्रड्यूसर हैं, लेकिन फिल्म में उनकी साफ झलक दिखाई देती है।

कहानी क्या है: चीन के शांघाई एयरपोर्ट पर अमृतसर की दो बहनें एक साथ उतरती हैं। पहली हैप्पी (डायना पेंटी) अपने पति गुड्डू यानि  (अली फजल) के साथ एक म्यूजिक कॉन्सर्ट में आई है और दूसरी हैप्पी (सोनाक्षी सिन्हा) शांघाई की एक यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर  का जॉब जॉइन करने आई है। एयरपोर्ट पर कुछ चीनी किडनैपर पहली हैप्पी (डायना पेंटी) को किडनैप करने आते हैं, लेकिन एक जैसे नाम होने की वजह से वह गलती से दूसरी हैप्पी (सोनाक्षी) को किडनैप कर लेते हैं। इस अपहरण में किडनैपर पटियाला से दमन बग्गा (जिम्मी शेरगिल) और पाकिस्तान से पुलिस ऑफिसर उस्मान अफरीदी (पियूष मिश्रा) को भी अगवा कर चीन लाते हैं। आगे कहानी क्या मोड़ लेती है, यह जानने के लिए आपको सिनेमा हॉल का रुख करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

I am very Happy. my film gali gulieyan will appear in the indian film festival of melborn

Ishita and Utkarsh sharma’ s film Genius- Review