in

Ant-Man and the Wasp Movie Review | जबरदस्त एक्शन के साथ रोमांच का तड़का

From the Marvel Cinematic Universe comes a new chapter featuring heroes with the astonishing ability to shrink: “Ant-Man and The Wasp.” In the aftermath of “Captain America: Civil War,” Scott Lang (Rudd) grapples with the consequences of his choices as both a Super Hero and a father. As he struggles to rebalance his home life with his responsibilities as Ant-Man, he’s confronted by Hope van Dyne (Lilly) and Dr. Hank Pym (Douglas) with an urgent new mission. Scott must once again put on the suit and learn to fight alongside The Wasp as the team works together to uncover secrets from their past.

Douglas reprises his role as Dr Hank Pym, and Ant-Man and the Wasp is as much his story as it is Scott’s – in fact, Pym and his daughter, Hope van Dyne, are very much the emotional anchors of the plot this time, a plot that has multiple antagonists but no real villain. She’s one-half of the title, of course. And together, the trio embarks on a quest to rescue Hank’s long-lost wife and Hope’s mother, Janet van Dyne, from the quantum realm, where she has been trapped for decades.

The sub-atomic limbo, as fans of the MCU would know, was first introduced in Ant-Man, and is rumoured to play a vital part in Avengers 4 – if Janet can be found and rescued, then so can Black Panther, Spider-Man, Doctor Strange and the other ‘dead’ Avengers, who succumbed to Thanos’ finger snap at the end of Infinity War.

HINDI

हॉलिवुड फिल्म ऐंटमैन ऐंड द वास्प 2015 में आई फिल्म ऐंटमैन का सीक्वल है। फिल्म की शुरुआत में स्कॉट लैंग उर्फ ऐंटमैन (पॉल रूड) को एफबीआई ने दो साल के लिए नजरबंद किया हुआ है। बावजूद इसके वह अपनी बेटी का हर तरह से मनोरंजन करने की कोशिश करते हुए दोहरी जिम्मेदारी निभाता है। उसके ऊपर पाबंदी है कि वह डॉक्टर हैंक पेम (माइकल डगलस) और उनकी बेटी होप उर्फ वास्प (इवेंजलाइन लिली) से सम्पर्क नहीं कर सकता। एक दिन अचानक स्कॉट को वास्प की मां से कुछ मेसेज मिलते हैं, जो कि क्वॉन्टम फील्ड में बंद है। ऐसे में, वह अपने ऊपर लगी पाबंदी की परवाह न करते हुए हैंक को मेसेज करता है।

दरअसल, एक मिसाइल को नाकाम करने के मिशन में अपनी वाइफ को क्वॉन्टम फील्ड में छोड़ने पर मजबूर हुए हैंक और उसकी बेटी वास्प ने उसे वापस लाने के लिए वहां तक एक सुरंग बनाई है। वे दोनों स्कॉट को अगवा कर लेते हैं, लेकिन उनके मिशन में एक लड़की रुकावट डाल देती है, जो कि हैंक के किसी पुराने सहयोगी की बेटी है और अब किसी अजीब बीमारी की शिकार है। वास्प किसी भी कीमत पर अपनी मां को वापस लाना चाहती है। वहीं हैंक और स्कॉट उसकी मदद करते हैं। वे अपने मिशन में कामयाब होते हैं या नहीं, यह जानने के लिए आपको सिनेमाघर जाना होगा।

फिल्म के सभी मुख्य कलाकारों ने बेहतरीन ऐक्टिंग की है। पॉल रूड ने एक सुपरहीरो से लेकर घर पर बेटी की देखभाल करने वाले बाप के रोल को बढ़िया तरीके से निभाया है। शुरुआती सीन में पॉल और बेटी की परेशानियां देखकर हालिया हॉलिवुड फिल्म ‘इनक्रेडिबल्स 2’ की याद आ जाती है। इसके अलावा, पॉल ने ऐक्शन के अलावा बढ़िया कॉमिडी सीन भी किए हैं। बात अगर इवेंजलाइन लिली की करें, तो वास्प के रोल में वह शानदार लगी हैं। उन्होंने बढ़िया ऐक्शन सीन किए। वहीं माइकल डगलस के पास भले ही फर्स्ट हाफ में भले ही कुछ खास करने का नहीं था, लेकिन फिल्म के क्लाइमैक्स में उन्होंने अपना दम दिखाया है।

हॉलिवुड फिल्मों की आजकल हिंदी में डबिंग इतनी बढ़िया होने लगी है कि आपका पूरा मनोरंजन हो जाता है। ऐंटमैन ऐंड द वास्प भी इस मामले में पीछे नहीं है। फिल्म की बेहतरीन हिंदी डबिंग भी आपको खूब गुदगुदाती है। इसके अलावा, थ्रीडी में बेहतरीन ऐक्शन और छोटी-बड़ी होती कारों के सीन भी आपको मजेदार लगते हैं। वहीं ऐंटमैन की सेना में शामिल खतरनाक चींटियां भी पर्दे पर दिलचस्प नजर आती हैं। इस वीकेंड अगर कुछ मजेदार देखना चाहते हैं, तो इस फिल्म को मिस न करें।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Rishi Kapoor will be seen in Rajma Chaval after 102 not out. This movie will be the release of this movie

टॉम क्रूज कि छठी एक्शन पैक्ड फिल्म जो आपको बताएगी एक्शन क्या होता है !