in

Ajay Devgn to Play Legendary Football Coach Syed Abdul Rahim, Biopic to be Produced by Boney Kapoor

बोनी कपूर की प्रोडक्शन फिल्म ‘सैयद अब्दुल रहीम’ में अजय देवगन एक पौराणिक फुटबॉल कोच की बायोपिक में.

ENGLISH

The untitled Syed Abdul Rahim Biopic is helmed by Amit Sharma, which has Ajay Devgn in the lead role.
Produced by Zee Studios, Boney Kapoor, Akash Chawla and Joy Sengupta… Screenplay and dialogue by Saiwyn Quadras and Ritesh Shah.”This will be the first film Boney is producing after Sridevi’s death, having backed her last film ‘Mom’ as well. His daughter Janhvi is also making her debut with ‘Dhadak’, and the family is surely into work mode after the tragedy.

Rahim was the Indian football team’s coach and manager from 1950-1963, he was the one responsible for taking the sport to new heights and winning accolades for the country. 56 years after that glorious win, producer Boney Kapoor and actor Ajay Devgn are collaborating to bring the story of the golden era of Indian football to the big screen. The yet-to-be-titled project will trace the journey of Syed Abdul Rahim, under whose leadership the Indian football team won the Asian Games in 1951 and 1962.

National Award-winning actor Ajay Devgn is stepping into the shoes of Syed to tell the story of this unsung hero who was responsible for taking Indian football to new heights and winning accolades.

Devgn has yet another announcement – he will now play legendary football coach Syed Abdul Rahim.Rahim is also regarded as the architect of modern Indian football.Devgn, who was last seen in ‘Raid’, will also be seen in ‘Total Dhamaal’ this year, followed by Neeraj Pandey’s film on Chanakya, ‘Taanaji: The Unsung Warrior’, and Luv Ranjan’s 2020 Christmas release with Ranbir Kapoor.

Syed Abdul Rahim was Indian football team’s coach and manager between 1950 and 1963. Regarded as the architect of modern Indian football, Syed, led the Indian team when it entered the semi-finals of the 1956 Melbourne Olympic Football – first ever Asian country to do so.

A still in black and white of shoe-less feet on a football has been released with the slogan “The untold story of the golden era of Indian football, 1951-1962”.

Syed also led the Indian team to win gold at the 1962 Asian Games in Jakarta, Indonesia. India beat the tough South Korea team to win the gold that year.

HINDI
अमित शर्मा द्वारा निर्देशित फिल्म सैय्यद अब्दुल रहीम बायोपिक 2019 की बायोग्राफिकल ड्रामा है,फिल्म में अजय देवगन मुख्य भूमिका में हैं।
इस फिल्म को बोनी कपूर, आकाश चावला, जॉय सेनगुप्ता और ज़ी स्टूडियोज़ प्रोड्यूस कर रहे हैं. फिल्म का स्क्रीनप्ले और डायलॉग साइवन क्वॉड्रस और रितेश शाह ने लिखे हैं.

इस अनाम फिल्म को अमित शर्मा डायरेक्ट कर रहे हैं. अमित ने इससे पहले बोनी कपूर की ही प्रोड्यूस की अर्जुन कपूर और सोनाक्षी सिन्हा स्टारर फिल्म ‘तेवर’ डायरेक्ट की है.

आज के टाइम में इंडिया भले ही वर्ल्ड फुटबॉल की दौड़ में पीछे हो मगर एक समय ऐसा था जब इसे ‘एशिया का ब्राजील’ कहा जाता था. वो वक़्त 1950-60 के दशक का था जब सैयद अब्दुल रहीम इंडियन फुटबॉल टीम के कोच थे. उन्होंने जिस तरह खिलाड़ियों को निखारा था उससे बड़ी-बड़ी सफलताएं हासिल हुई थीं. 1962 में जकार्ता, इंडोनेशिया में हुई एशियन गेम्स में इंडियन फुटबॉल टीम ने उस वक़्त की ज़ोरदार साउथ अफ्रीका की टीम को हराकर गोल्ड जीता था. उन्हीं सैयद अब्दुल रहीम का रोल अजय देवगन इस बायोपिक में करते नजर आएंगे.
वर्ष 1950-1960 के रहीम भारतीय फुटबॉल टीम के पहले कोच और मैनेजर थे।  रहीम को भारतीय फुटबॉल को नई ऊंचाइयां प्राप्त करवाने वाला कोच माना जाता है।
अब्दुल रहीम को फुटबॉल के शिल्पकार कहा जाता हैं. भारतीय फुटबॉल को नई ऊंचाइयां प्राप्त करवाने वाला कोच माना जाता है. उनके कार्यकाल में भारतीय फुटबॉल टीम पहली बार 1956 के मेलबर्न ओलिम्पिक फुटबॉल टूर्नामेंट के सेमीफाइनल तक पहुंची थी.

चूंकि सैयद अब्दुल रहीम, हैदराबादी थे, इसलिए फिल्म के लिए अजय देवगन अपनी ज़ुबान को काबू में लाएंगे और हैदराबादी उर्दू सीखेंगे। इसकी तैयारी अभी से शुरू हो चुकी है।

अजय देवगन और बोनी कपूर इस फिल्म के साथ 16 साल बाद एक साथ आ रहे हैं। और इस फिल्म में अजय देवगन आखिरकार एक फुटबॉल कोच की भूमिका में दिखेंगे जिन्होंने 1951 से 1962 तक राज किया।और ज़ाहिर सी बात है कि फिल्म की सीधी तुलना होगी गोल्ड और चक दे इंडिया से। दिलचस्प ये है कि अक्षय कुमार के साथ अजय देवगन एक दम ज़ोरदार टक्कर लेने का मूड बना चुके हैं। कम से कम उनकी फिल्मों के चयन से तो ऐसा ही लग रहा है।

हालांकि माना जा रहा है कि ये फिल्म बायोपिक कम और अब्दुल रहीम पर आधारित ज़्यादा होगी। क्योंकि ये एक कोच और उसकी टीम के रिश्तों और उनकी आपसी समझ, सूझ बूझ और गुरू शिष्य के रिश्ते पर ज़्यादा फोकस करेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2.0 movie review: Rajinikanth is smarter than a smartphone, the film isn’t.

New Captain Marvel trailer stars Carol Danvers fighting in space